EPCO
हिन्दी | English
Introduction
परियोजना प्रबंधन सलाहकारी प्रकोष्ठ

वर्ष 2010-10 में एप्को ने परियोजना प्रबंधन सलाहकारिता के क्षेत्र में प्रवेश किया तथा इस हेतु पृथक परियोजना प्रबंधन सलाहकारी प्रकोष्ठ का गठन किया गया। इसका उद्देश्य ऐसी शासकीय संस्थाओं, जिन्हें उनके निर्माण एवं विकास परियोजनाओं हेतु परियोजना प्रबंधन सलाहकारी सेवाओं की आवश्यकता हो, को सहायता प्रदान करना है। एप्को द्वारा विज्ञापन जारी कर इच्छुक परियोजना प्रबंधन सलाहकारों से आवेदन प्राप्त किये गये। आवेदनों की छानबीन हेतु एक आंतरिक छानबीन समिति का गठन किया गया। अब तक एप्को द्वारा 54 संस्थाओं को सूचीबद्ध किया गया है। सूचीबद्ध सभी संस्थाओं के पास परियोजना प्रबंधन के क्षेत्र में कार्य करने का 5 वर्ष से अधिक का अनुभव है।
वर्ष 2011 में एप्को द्वारा मध्य प्रदेश लोक निर्माण विभाग के अंतर्गत कार्यरत विभिन्न परियोजना क्रियान्वयन इकाईयों के 397 निर्माण परियोजनाओं हेतु पर्यवेक्षण एवं गुणवत्ता नियंत्रण के लिए सलाहकारी सेवायें प्रदान की गयी। इन सभी परियोजनाओं की समेकित लागत रूपये 296.27 करोड़ थी।
वर्ष 2014 में एप्को द्वारा पुनः रूपये 545.07 करोड़ लागत की 986 परियोजनाओं के पर्यवेक्षण एवं गुणवत्ता नियंत्रण का कार्य लिया गया तथा उन्हें सफलतापूर्वक पूर्ण किया गया।
वर्तमान में एप्को द्वारा मंत्रालय भवन के विस्तार, नवीन विधायक विश्राम गृह एवं विकास भवन के परियोजना प्रबंधन हेतु सेवायें दी जा रही हैं।
हाल ही में एप्को द्वारा भवनों के ग्रीन बिल्डिंग अवधारणा के अनुसार निर्माण के क्षेत्र में भी सलाहकारी सेवायें देना प्रारम्भ किया गया है। मंत्रालय भवन विस्तार, नवीन विधायक विश्राम गृह तथा वन भवन का आकल्पन ग्रीन बिल्डिंग अवधारणा के आधार पर किया जा रहा है। 



 
Powered by SynQues                    EPCO © 2011                    Disclaimer | Privacy Policy | Sitemap